Covaxin vs Covishield – Efficacy Rate, Side Effects, Prices, कौन सी है बेस्ट? – Sarkari Flix

Covaxin vs Covishield – आज के इस लेख में हम Covaxin और Covishield के Efficacy Rate, Side Effects के बारे में बात करेंगे और जानेंगे कि आख़िरकार इनमें से कौन सी अच्छी है? तो चलिए शुरू करते हैं।

इस समय कोरोना का क़हर जारी है बीते अप्रैल में इसकी दूसरी लहर ने तो मानो पूरे देश को झकझोर ही दिया। इसमें मरने वाले ज़्यादातर लोग 18 से 40 साल के अंदर थे। इसके बाद लोगों में काफ़ी डर व्याप्त हो चुका है। सरकार ने पूरे देश में वैक्सिनेशन की प्रक्रिया भी अब 18+ वालों के लिए कर दी है।

भारत में ज़्यादातर Covaxin और Covishield वैक्सीन उपलब्ध हो पा रही है। दोनों वैक्सीन काफ़ी कारगर और अच्छी है ऐसे में आप कोई सी भी ले सकते है। बस इस बात का ध्यान दें की जो भी वैक्सीन लें, उसकी दोनों खुराक ज़रूर लें। अन्यथा आप के शरीर में पूरी ऐंटीबाडी डिवेलप नहीं हो पाएगी। आइए आज के लेख में Covaxin vs Covishield पर चर्चा करते हैं।

Covaxin vs Covishield – संक्षिप्त परिचय

लेख का नाम Covaxin vs Covishield – Efficacy Rate, Side Effects
श्रेणी Covid-19 India New
तुलना Covaxin vs Covishield
लाभार्थी भारत के लोग
उम्र सीमा 18+
खुराक की संख्या 2 [ Covaxin – पहली खुराक के 21 दिन बाद, Covishield – पहली खुराक के 84 दिन बाद ]
स्टोरेज तापमान 2-8° Centigrade

Covaxin vs Covishield – Comparison 

Covaxin vs Covishield - Efficacy Rate, Side Effects, Prices
Covaxin vs Covishield – Efficacy Rate, Side Effects, Prices

Developers

आपको बता दें कि Covaxin का निर्माण स्वदेशी कम्पनी Bharat Biotech International Ltd ने ICMR के साथ मिलकर किया है।

जबकि Covishield का विकाश Oxford-AstraZeneca ने किया है और भारत में इसका उत्पादन Serum Institute of India (SII) कर रही है।

Doses – खुराक की संख्या

आपको बता दें कि खुराक के आधार पर उपरोक्त दोनों वैक्सीन में कोई अंतर नहीं है क्यूँकि दोनों की 0.5ml खुराक आपको लेनी होती है। लेकिन अवधि अलग-अलग ज़रूर है।

कोवैक्सिन की दूसरी खुराक पहली खुराक के 4-6 सप्ताह (21 दिन) बाद आपको लेना होता है, जबकि कोविशील्ड के मामले में यह पहली खुराक के 84 दिन लेना होता है।

Efficacy Rate – दक्षता

दक्षता के मामले में देखा जाए तो Covaxin की 78-85% जबकि Covishield की 90% तक हो सकती है।

Required Age – ज़रूरी उम्र

सबसे महत्वपूर्ण पहलू यह है की ये दोनों वैक्सीन यदि आप ले रहे हैं तो आपकी उम्र क्या होनी चाहिए। आपको बता दें कि दूसरी लहर के बाद वैक्सिनेशन 18 साल के ऊपर वाले सभी लोगों को करवाना चाहिए। लेकिन यदि आपकी उम्र 18 साल से कम है तो अभी इसके लिए सरकार ने कोई दिशानिर्देश जारी नहीं किए हैं।

कई सारी शोधों ने दावा किया है कि COVID-19 Third Wave आने वाली है, और यह ज़्यादातर 18 साल से कम उम्र वालों को प्रभावित करेगी। ऐसे में उम्मीद है की जल्द ही भारत सरकार इनके लिए भी गाइडलाइन जारी करेगी।

Side Effects – दुष्प्रभाव

आपको बता दें कि टीका लगवाने के बाद, आपको इंजेक्शन वाली जगह पर दर्द होगा जोकी कि कुछ दिनों तक बना रह सकता है। इसके अलावा आपको बुख़ार, थकान, सरदर्द, पूरे शरीर में ऐंठन भी हो सकती है लेकिन यह सब क्षणिक होगा।

मैंने Covishield की पहली खुराक ली थी तो मेरे बाज़ू में लगभग 5 दिन दर्द था। और वैक्सीन लेने के 8-10 घंटे बाद मुझे बुख़ार भी आया था लेकिन बुख़ार अगले ही दिन सही हो गया था। इसके अलावा मुझे थोड़ी कमजोरी भी लग रही थी। मोटी मोटा लगभग 3-4 दिन में मैं पहले जैसा स्वस्थ हो गया था।

अतः आपसे अपील करता हूँ की इन छोटे मोटे साइड इफ़ेक्ट्स को चक्कर में वैक्सीन लगवाना न छोड़ें। बल्कि वैक्सीन की दोनों खुराकें समय पर लें।

Price – वैक्सीन की कीमत

दोनों टीकों को सरकारी स्वास्थ्य प्रतिष्ठानों में नि:शुल्क लगाया जा रहा है। हालांकि, निजी अस्पताल में टीकों की लागत अलग-अलग होती है। वैसे आप किसी भी सरकारी केंद पर जाकर फ्री में टिका लगवा सकते हैं।

Covaxin vs Covishield – Table Comparison 

क्रम सं. तुलना का बिंदु Covaxin Covishield
1. खुराक की संख्या 2 2
2. खुराक की अवधि 21 दिन 84 दिन
3. दक्षता 78-85% 90%
4. क़ीमत सरकारी केंद्रों पर मुफ़्त सरकारी केंद्रों पर मुफ़्त
5. स्टोरेज तापमान 2-8° Centigrade 2-8° Centigrade
6. उम्र 18+ 18+
7. साइड इफ़ेक्ट बुख़ार, थकान, सरदर्द बुख़ार, थकान, सरदर्द, पूरे शरीर में ऐंठन
8. निर्माता Bharat Biotech International Ltd + ICMR Oxford-AstraZeneca + Serum Institute of India

कोवैक्सिन Vs कोविशील्ड – FAQs

Q 1: कोवैक्सिन Vs कोविशील्ड में से कौन से वैक्सीन अधिक कारगर है?

आपको बता दें की उपरोक्त दोनों वैक्सीन काफ़ी कारगर हैं। अतः सबसे ज़रूरी यह है कि आपको जो उपलब्ध हो वो ले लें। दोनों की दक्षता लगभग ठीक है।

Q 2: कोविशील्ड वैक्सीन की क्या खासियत है? 

वैक्सीन को चिंपैंजी में सामान्य सर्दी पैदा करने वाले वायरस (एडेनोवायरस) के कमजोर संस्करण से विकसित किया गया है। हालांकि, जब शरीर में इंजेक्ट किया जाता है, तो यह बीमारी का कारण नहीं बनता है, लेकिन प्रतिरक्षा प्रणाली को कोरोना वायरस के खिलाफ एंटीबॉडी बनाने के लिए उत्तेजित करता है।

Q 3: यह टीका किसे नहीं लगवाना चाहिए?

यदि आपको फार्मास्युटिकल दवा से एलर्जी है, तो टीका नहीं लगाने का सुझाव दिया जाता है। यदि किसी व्यक्ति को पहली खुराक के बाद कोई समस्या आती है, तो उसे दूसरी खुराक नहीं लेनी चाहिए। इसके अलावा, यदि किसी व्यक्ति का मोनोक्लोनल एंटीबॉडी और प्लाज्मा के साथ इलाज किया गया है, तो उसे भी अभी टीका नहीं लगाया जाना चाहिए।

Q 4: Covaxin और Covishield की Efficacy Rate क्या है?

दक्षता के मामले में देखा जाए तो Covaxin, 78-85% जबकि Covishield की 90% तक कारगर है।

Covaxin vs Covishield – निष्कर्ष

उपरोक्त चर्चा से हम इस नतीजे पर पहुँचे हैं कि Covaxin और Covishield दोनों ही कोरोना के प्रति काफ़ी प्रभावी और कारगर हैं। अतः दोनों में से कोई सी भी की खुराक ली जा सकती है लेकिन सबसे महत्वपूर्ण बिंदु यह है कि आप जो भी वैक्सीन लें उसकी दोनों खुराक लें, तभी वह अपनी पूरी क्षमता दिखा पाएगी।

अस्वीकरण : उपरोक्त लेख का उद्देश्य केवल आमजन को Covaxin और Covishield के बारे में सामान्य जानकारी देना है। अधिक जानकारी के लिए आप अपने चिकित्सक से सलाह ज़रूर लें, इसे क़ानूनी दस्तावेज की तरह इस्तेमाल नहीं किया जा सकता हैं।

उम्मीद है आपको हमारा Covaxin vs Covishield लेख पसंद आया होगा, ऐसे ही अन्य खबरों के लिए रोज़ाना हमारी साइट SarkariFlix विज़िट करें और बुक्मार्क करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here